• Mon. Jun 24th, 2024

धूम धाम से मनाई गई भोला पासवान शास्त्री की जयंती

Sep 21, 2023

सिटी न्यूज़ डेस्क । पासी पासवान परिषद के द्वारा बिहार विधान परिषद के सभागार में भोला पासवान शास्त्री की जयंती समारोह धूमधाम से मनाई गई। जिसका उद्घाटन भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी, पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ संजय पासवान ,विधान पार्षद कामेश्वर चौपाल , वर्धा विश्वविद्यालय बंगाल के पूर्व कुलपति प्रोफेसर रजनीश शुक्ला ने दीप प्रज्वलित व पुष्प अर्पित कर संयुक्त रूप से की। इस मौके पर सनातन संवाद का भी आयोजन किया गया। कार्यक्रम के अपने उद्घाटन संबोधन में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने कहा कि आज पूरे देश में सनातन पर लोग अनर्गल तरीके से बयान दे रहे हैं। सनातन का अर्थ शाश्वत या सदा बना रहने वाला अर्थात जिनका ना आदि है ना अंत । सनातन धर्म जिस हिंदू धर्म अथवा वैदिक धर्म के नाम से भी जाना जाता है। इसे दुनिया के प्राचीनतम धर्म के रूप में भी माना जाता है। भारत के सिंधु घाटी सभ्यता में हिंदू धर्म के कई चिन्ह मिले। यह धर्म ज्ञात रूप से लगभग 12000 वर्ष पुराना वही मौके पर उपस्थित दलित चिंतक इंजीनियर हरिकेश्वर राम एवं अखिल भारतीय परिषद के प्रदेश अध्यक्ष प्रोफेसर शशिकांत प्रसाद ने कहा कि सनातन धर्म है या धर्म सनातन है यह एक गंभीर विषय आज देश में सनातन के नाम पर पाखंडवाद हावी होता जा रहा है। वर्धा विश्वविद्यालय बंगाल के पूर्व कुलपति प्रोफेसर डाक्टर रजनीश शुक्ला ने कहा कि सनातन धर्म एक ऐसा धर्म है जो लोगों को अनैतिकता की ओर से नैतिकता की ओर ले जाती है भारतीय संस्कृति को बचाकर रखना ही सनातनियों का धर्म व कर्तव्य है इस अवसर पर विधान पार्षद कामेश्वर चौपाल , पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ संजय पासवान, सामाजिक चिंतक शिवदयाल प्रसाद, विधायक वीरेंद्र पासवान ने भी विशेष रूप से सनातन संवाद पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए पासी पासवान परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह असंगठित कामगार एवं कर्मचारी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ अमित कुमार पासवान (अधिवक्ता) ने कहा कि पासी पासवान परिषद का उद्देश्य है कि दो जातियों में विभक्त पासी पासवान को उनके इतिहास से रूबरू कराकर आपसी भाईचारा व सामाजिक समरसता कायम कर उनके अधिकारों को दिलाना है। डॉक्टर पासवान ने कहा कि बिहार के अलावे देश के विभिन्न राज्यों में पासी और पासवान एक हैं । सनातन संवाद पर डॉक्टर पासवान ने कहा कि पोथी पड़ी-पड़ी जग मुआ , पंडित भया न कोय , ढाई आखर प्रेम का , पड़े सो पंडित होय । आज जिस तरह से पूरे देश में सनातन पर विवाद छिड़ा हुआ है। उससे भारतीय संस्कृति व लोकतंत्र को भारी नुकसान होगा। कार्यक्रम का संचालन राजू पासवान ने की इस अवसर पर विधान पार्षद अनिल शर्मा, राहुल पासवान, जयराम झा ,प्रवीण कुमार, गुरु प्रकाश, मोहम्मद मसीहुद्दीन, प्रोफेसर वीरेंद्र पासवान,सुबोध पासवान सहित कई गणमान्य लोग मौजूद थे।

RSS
Follow by Email
YouTube
Telegram
WhatsApp
FbMessenger