• Tue. Jun 18th, 2024

नालंदा ।सैनिक स्कूल में मुख्यमंत्री खेल विकास योजना ने निर्मित स्टेडियम का पटना प्रमंडल के कमिश्नर ने किया उद्घाटन

Jun 30, 2023

सिटी न्यूज़ डेस्क ।नालंदा के नानंद गॉव स्थित सैनिक स्कूल नालंदा में सात दिवसीय सैनिक स्कूल के नव निर्मित स्टेडियम में मध्य क्षेत्र फुटबाल प्रतियोगिता का उद्घाटन पटना मंडल के कमिश्नर सह सचिव भवन निर्माण निगम सह प्रबंध निदेशक, बिहार राज्य भवन निर्माण निगम लिमिटेड कुमार रवि ने किया। इस अवसर पर उन्होंने सैनिक स्कूल परिसर में नव निर्मित श्री शिवो मेवालाल खेल- परिसर (स्टेडियम) का लोकार्पण भी किया।

उक्त प्रतिष्ठित प्रतियोगिता में देश के पाँच राज्यों में स्थित सात सैनिक स्कूलों क्रमश: बिहार के नालंदा, गोपालगंज, झारखंड के तिलेया, मध्य प्रदेश के रीवा छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर एवं उड़ीसा से भुवनेश्वर एवं संबलपुर के वरिष्ठ एवं कनिष्ठ वर्ग के कुल 224 प्रतिभागी अपने-अपने विद्यालयों का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। । इस सात दिवसीय फुटबाल प्रतियोगिता का समापन 7 जुलाई को किया जायेगा ।
अतिथि के आगमन पर विद्यालय के प्राचार्य कैप्टन (भा० नौ० से०) नवीन कृष्ण चंद्रा ने परंपरागत तरीके से स्वागत किया। प्राचार्य महोदय ने अपने स्वागत भाषण में शिव मेवालाल के जीवन एवं फुटबाल में किये गए उत्कृष्ट योगदान का जिक्र करते हुए कहा कि श्री शिवो मेवालाल का जन्म 1 जुलाई 1926 को गया जिले (वर्तमान में नवादा) के दौलतपुर गाँव में हुआ था। आप ने ग्रीष्म कालीन ओलम्पिक सन 1948 लन्दन तथा 1952 में हेलिंसकी सहित 1951 में एशियन गेम नई दिल्ली में भाग लिया था।। फुटबाल में सुप्रसिद्ध बाईसाइकिल किक एवं रबोना किक के जन्मदाता के रूप में इन्हें जाना जाता है तथा इन्होने अपने खिलाड़ी जीवनकाल में 32 हैट्रिक सहित कुल 1032 गोल स्कोर किया है। इसलिए फुटबाल के इस अतिप्रतिष्ठित खिलाड़ी श्री शिवो मेवालाल के सम्मान में इस खेल परिसर का नामकरण किया जा रहा है इस खेल परिसर से न सिर्फ सैनिक स्कूल नालंदा के छात्र-छात्राएं अपितु नालंदा जिले के अन्य विद्यालयों के छात्र एवं युवा खिलाड़ी लाभान्वित होंगे। आगे उन्होंने सेन्ट्रल जोन फुटबाल प्रतियोगिता के उद्देश्य प प्रकाश डालते हुए सभी प्रतिभागी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं देते हुए खेल भावना का परिचय देने

मुख्य अतिथि ने संबोधन में शिवो मेवालाल स्टेडियम के निर्माण के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए सभी प्रतिभागी छात्र – छात्राओं को बधाई देते हुए उनका उत्साहवर्धन किया। उन्होंने ने कहा कि व्यक्तित्व के निर्माण में खेल-कूद का अहम् योगदान है। इससे छात्र-छात्राओं में अनुशासन, नेतृत्व क्षमता एवं टी भावना से काम करने के गुणों का विकास होता है। तत्पश्चात आपने सात दिवसीय अतिप्रतिष्ठि प्रतियोगिता का औपचारिक शुभारम्भ की घोषणा की । उद्घाटन मैच सैनिक स्कूल नालंदा एवं सैनिक स्कूल अंबिकापुर के बीच खेला गया।

RSS
Follow by Email
YouTube
Telegram
WhatsApp
FbMessenger